lapse in Chief Minister’s security: मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव की सुरक्षा में बड़ी चूक, शराब के नशे में पुलिस की वर्दी पहन कर जवानों के बीच पंहुचा अज्ञात युवक

शहडोल। lapse in Chief Minister’s security: प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉक्टर मोहन यादव का शहडोल दौरे को लेकर शासन द्वारा चकचोंद व्यवस्था की गई थी जिसमें मुख्यमंत्री की सुरक्षा को लेकर भारी पुलिस बल भी तैनात किया गया था। इस बीच सीएम के पहुंचने से पहले सीएम की सुरक्षा में बड़ी चूक सामने आई है, वह इस प्रकार है कि एक व्यक्ति शराब के नशे में पुलिस की वर्दी पहनकर सीएम के कार्यक्रम स्थल पर जवानों के बीच पहुंच गया, और वह उस पॉइंट तक पहुंच गया जहां पर सीएम को पॉलिटेक्निक मैदान में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने के लिए प्रवेश करना था।

lapse in Chief Minister's security

बता दे कि प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉक्टर मोहन यादव आज शनिवार को शहडोल दौरे पर आने वाले थे जिसको लेकर प्रशासन द्वारा सीएम की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर चकचोंद व्यवस्था की गई थी। और भारी पुलिस बल भी तैनात किया गया था लेकिन इस बीच सीएम की सुरक्षा में बड़ी चूक सामने आई है एक अज्ञात युवक मध्य प्रदेश पुलिस की वर्दी पहनकर उस पॉइंट तक पहुंच गया

Nav Jeevan Hospital

lapse in Chief Minister’s security: युवक ने दिखाया वर्दी का रोब

जहां पर सीएम को प्रवेश करना था। युवक पुलिस के सामने ही वर्दी पहनकर रोब झाड़ता दिखाई दे रहा था, युवक की वर्दी पर मध्य प्रदेश पुलिस का फित्ता भी लगा हुआ था। युवक पुलिस की वर्दी पहनकर उसी गेट तक पहुंच गया जहां से सीएम को प्रवेश करना था। जहां पर लड़कियां धार्मिक प्रस्तुतियां दे रही थी।

युवक नशे की हालत में पुलिस की वर्दी पहनकर वहां घुस गया और बातें करने लग गया। जब इस बात की भनक वहां पर उपस्थित मीडिया कर्मियों को लगी तो उन्होंने सवाल किया कि अज्ञात पुलिस कर्मी नशे की हालत में कैसे लड़कियों से बात कर रहा है, तभी युवक वहां से भागने लगा, जब युवक वहां से भाग रहा था तब वहां पर अधिकारी और पुलिसकर्मी भी उपस्थित थे वह उनकी मौजूदगी में वहां से भाग रहा था। लेकिन किसी भी पुलिसकर्मी ने उसे नहीं पड़ा और उसे कोटवार बात कर किनारे खड़ा कर दिया।

इन्हें भी पढ़ें :

AU Bank Credit Card: एयू बैंक क्रेडिट कार्ड ऑनलाइन (Online) कैसे Apply करते है ? जाने सम्पूर्ण जानकारी

कागजों में करवा दिया PM आवास के माकन का निर्माण, धरातल पर नहीं है घर, ग्रामीण ने आगर कलेक्ट्रेट में दिया आवेदन।